Skip to content
Home » What Is Backlink in SEO in Hindi? | Importance of Backlinks

What Is Backlink in SEO in Hindi? | Importance of Backlinks

    What Is Backlink in SEO in Hindi? Backlinks क्या हैं और ये क्यों ज़रूरी है? | Backlinks कितने प्रकार के होते हैं?(Types of Backlinks in SEO) – अगर आप अभी SEO के साथ शुरुआत कर रहे हैं, तो आपको “Backlinks,” “External और Internal Links,” या “Link Building” के बारे में बहुत कुछ सुनने की संभावना है। आखिरकार, SEO की सफलता के लिए बैकलिंक्स एक बेहद ज़रूरी रैंकिंग कारक हैं, लेकिन एक Beginner के रुप में आप सोच रहे होंगे Backlinks क्या हैं? और ये क्यों ज़रूरी है? हालांकी SEO हर समय बदलता रहता है – क्या बैकलिंक्स अभी भी मायने रखते हैं? खैर, इसमें कोई भी हैरानी की बात नहीं। Backlinks और SEO में उनकी ज़रूरत के लिए आप आज का ये Article – Backlink Kya Hai और ये क्यों ज़रूरी है? को बिल्कुल अंत तक पढ़ सकते हैं जिसमें की आपको ये भी जानने को मिलेगा की ये Backlinks कितने प्रकार के होते हैं? और इसकी SEO के अंदर क्या ज़रूरत होती है? तो आईए एक-एक करके इन सभी सवालों के जवाब पाते हैं,

    What Is Backlink in SEO in Hindi? | Backlinks क्या हैं?

    What Is Backlink in SEO in Hindi
    What Is Backlink in SEO in Hindi

    एक Backlink बस एक वेबसाइट के एक पेज से दूसरे पेज का लिंक होता है। एक बैकलिंक को “Incoming Links” या “Inbound Link” के रूप में भी जाना जाता है और यह SEO के लिए भी बहुत ज़रूरी है।

    Search Engine Algorithms हर दिन अधिक जटिल होते जा रहे हैं, बैकलिंक्स का महत्व कम होता जा रहा है – हालांकि वे अभी भी आपकी साइट की ताकत और अधिकार में योगदान करते हैं। ऐसा इसलिए है क्योंकि Page Authorization और डोमेन इस बात के प्रमुख संकेतक हैं कि Official Search Engine आपकी वेबसाइट को कैसे देखते हैं। यह जितना अधिक Official होगा, Keyword Research के दौरान आपके द्वारा चुने गए Targeted Keywords के लिए इसे उतना ही ऊँचा स्थान दिया जाएगा। ये Backlinks Visitors को आपकी साइट खोजने का एक अवसर प्रदान करती हैं।

    उदाहरण के लिए, जब कोई Visitor एक Informative Blog पढ़ रहा होता है और एक लिंक को आपकी वेबसाइट से लिंक करता हुआ देखता है और अपने Search के लिए सटीक विषय पाता है, तो वे लिंक को हिट कर सकते हैं और आपकी साइट पर Redirect हो सकते हैं। इसे Referral Traffic कहा जाता है और यह आपकी साइट की Online Reputation में काफी बड़ा योगदान कर सकता है।

    Backlinks कितने प्रकार के होते हैं? | Types Of Backlinks

    Backlinks दो तरह के होते हैं जो की हैं Dofollow Backlink और Nofollow Backlink, तो आईए इन दोनों के बारे में भी अच्छे से जान लेते हैं।

    Dofollow Backlink:

    Dofollow Backlink लिंक जूस को आगे बढ़ाने में मदद करता है, जो की एक वेबसाइट से दुसरी वेबसाइट पर जाने के लिए रास्ता बनाता है उसे ही हम सभी Dofollow Link के नाम से जानते हैं. Default से जितने भी लिंक आप दुसरी वेबसाइट पर या फिर ब्लॉग पोस्ट पर Redirect करते हैं वे सभी के सभी लिंक्स Dofollow Backlink कहलाते हैं।

    DoFollow Backlink आपकी वेबसाइट की रैंकिंग को Search Engine के अंदर बढ़ाने में काफी ज़्यादा मददगार साबित होता है और ये आपके ब्लॉग के लिए भी काफी ज़्यादा बढ़िया हो सकता है।

    Nofollow Backlink:

    Nofollow Backlink एक वेबसाइट से दुसरी वेबसाइट तक लिंक जूस को आगे नहीं बढ़ाता है, NoFollow Backlinks की Search Engines के अंदर भी किसी तरह की कोई भी Value नहीं होती है, बल्की NoFollow Backlinks आपकी वेबसाइट को रैंक करने में किसी भी तरह से बिलकुल काम नहीं आती हैं

    इसके अलावा NoFollow Backlinks आपके ब्लॉग के लिए सिर्फ़ कुछ ही हद तक बढ़िया हो सकता हैं, इसका काम आपकी Profile Link को एक नेचुरल लुक देना है अगर आपकी सारी लिंक DoFollow होगी तो गूगल को ये लगेगा की आपकी Profile Link बिल्कुल भी नेचुरल नहीं है और ये फिर आपको उसके लिए दंड भी दे सकता है।

    Nofollow Backlink का एक Benefit ये भी है की अगर आपकी वेबसाइट में किसी और वेबसाइट का लिंक जुड़ा हुआ है जहाँ पर अगर कुछ आपको ठीक न लगे तो आप उस लिंक के साथ NoFollow Attribute जोड़ भी सकते हैं. इससे आपकी वेबसाइट का लिंक उस दूसरी वेबसाईट तक नहीं जा सकेगा।

    Backlinks की ज़रूरत क्यों होती है? | Importance Of Backlinks in Hindi

    Organic Ranking में सुधार करने के लिए:

    एक बार जब सर्च इंजन आपकी वेबसाइट को एक Authority के रूप में देखना शुरू कर देते हैं, तो वे आपकी वेबसाइट को SERP में High Rank देना शुरू कर देंगे। ध्यान रखें कि Google उन वेबसाइटों को प्राथमिकता देता है जिन पर Users अक्सर उन विषयों के बारे में जाते हैं जिन्हें वे नियमित रूप से खोजते हैं। इसका मतलब है कि अगर आपके पास कई Quality वाले बैकलिंक हैं, तो Google मानता है कि आपकी साइट उस विशिष्ट विषय के बारे में जानकारी का एक विश्वसनीय और मूल्यवान स्रोत है।

    ब्रांड की जागरूकता को बढ़ाने के लिए:

    जब Websites आपसे जुड़ती हैं, तो यह पता चलता है कि उन्हें लगता है कि उनके Readers को आपकी वेबसाइट की पेशकश से लाभ होगा। Quality Backlinks प्राप्त करने का अर्थ यह भी है कि विश्वसनीय वेबसाइटों पर लोग अपने Readers को आपकी साइट और ब्रांड की सिफारिश कर रहे हैं, जिससे आपकी वेबसाइट पर आने वाले लोग आकर्षित होते हैं।

    एक बार जब वे आपकी वेबसाइट पर आ जाते हैं, तो आप अपने ब्लॉग के अंत में एक ‘Related Content’ विजेट का इस्तेमाल उन्हें दूसरे Content से जोड़ने के लिए कर सकते हैं जिसमें उनकी रुचि हो सकती है। इससे उन्हें आपकी वेबसाइट पर और अधिक Content पढ़ने और आपकी Website पर अधिक समय बिताने की अनुमति मिलती है। जिसे Google आपकी वेबसाइट की रैंकिंग करते समय मानता है।

    रेफरल ट्रैफिक बढ़ाने के लिए:

    रेफ़रल ट्रैफ़िक को बढ़ावा देने में बैकलिंक्स भी बहुत योगदान देते हैं। अगर कोई विज़िटर बैकलिंक के माध्यम से आपकी वेबसाइट पर आता है, तो Google Analytics उस क्लिक को आपकी वेबसाइट पर रेफ़रल विज़िट के रूप में ट्रैक करता है। संक्षेप में, रेफ़रल ट्रैफ़िक ज़्यादा Targeted और Relevant होता है और इसके परिणामस्वरूप दूसरे तरह के ट्रैफ़िक की तुलना में कम बाउंस दर होती है।

    आपके Business को एक Authority के रूप में स्थान देने के लिए:

    जब अधिक Websites आपसे वापस जुड़ती हैं, तो वे आपके व्यवसाय (Business) को किसी विशेष सेवा, Topic, विषय, आदि पर एक प्राधिकरण (Authority) के रूप में स्थान देती हैं। याद रखें कि Google आपकी वेबसाइट के बारे में सीखने के लिए एक कारक के रूप में बैकलिंक्स का इस्तेमाल करता है। इसलिए, आपको जितने अधिक बैकलिंक्स मिलेंगे, Google के लिए आपके Business के बारे में अधिक जानना उतना ही आसान होगा।

    Websites के बीच संबंध स्थापित करने के लिए:

    जब आप दूसरी Websites से लिंक करते हैं या उनका प्रचार करते हैं, तो लोग इसे एक अन्य साइट के साथ आपके संबंध के रूप में देखते हैं, और यह तब और अधिक विश्वास विकसित करता है जब लोग जानते हैं कि आप एक दूसरे पर इतना भरोसा करते हैं कि आप खुले, ऑनलाइन संबंध बना सकें। हालांकि, यह मानने की गलती न करें कि लिंक एक्सचेंज उपयोगी होगा, क्योंकि यह आपको केवल लंबी अवधि में नुकसान पहुंचाएगा।

    Naturally अधिक बैकलिंक्स को आकर्षित करने के लिए:

    एक और ज़रूरत जिससे बहुत से लोग अनजान हैं। अगर आपके पास पहले से ही लोकप्रिय Websites पर कुछ Quality वाले बैकलिंक्स हैं, तो उन व्यक्तियों का एक अंश आपके बारे में लिख सकता है और लिंक भी कर सकता है बिना आपसे पूछे भी।

    निष्कर्ष (Conclusion):

    आज के इस Article – What Is Backlink in SEO in Hindi? | Importance of Backlinks | Backlinks कितने प्रकार के होते हैं? के अंदर हम सभी ने Backlinks के बारे में जाना की ये हमारी Website के SEO में कितनी ज़्यादा मददगार साबित होती हैं। Search Engine Result Pages (SERPs) पर High Ranking के लिए और अपने SEO को पूरी तरह से सुधारने के लिए Unique और Official लिंक प्राप्त करना बेहद ज़रूरी है।

    लिंक के मूल्यांकन पर Google का Algorithm हाल के सालों में ही विकसित हुआ है जो की Quality लिंक पर केंद्रित है, न कि Quantity पर। इसने आपकी SEO रणनीति के अंदर High Quality वाले बैकलिंक्स प्राप्त करने के लिए एक अधिक चुनौतीपूर्ण प्रक्रिया बनाई।

    External Link अभी भी मायने रखते हैं और अप्रचलित नहीं हैं, इसलिए अपनी Search Visibility को बेहतर बनाने के लिए Link Building रणनीति पर काम करना शुरू करें।

    इसे पढ़े: Best Motivational Books To Read in Hindi
    इसे पढ़े: Best Movies For Entrepreneurs in Hindi
    इसे पढ़े: Motivational Quotes in Hindi by Great Personalities
    इसे पढ़े: Best Inspired Quotes in Hindi
    इसे पढ़े: Entrepreneur किसे कहते हैं?
    इसे पढ़े: Best Site to Watch Hindi Dubbed Hollywood Movies Online

    Leave a Reply

    Your email address will not be published.