Home » Positive Kaise Soche in Hindi | सकारात्मक सोच कैसे बनाएं

Positive Kaise Soche in Hindi | सकारात्मक सोच कैसे बनाएं

    Positive Kaise Soche? दोस्तों क्या आप जानते हैं की Positive Thinking रखने से हमारी जिंदगी में क्या क्या प्रभाव पड़ सकते हैं, अगर नही तो मैं आपको बता दूं की सकारात्मक सोच (Positive Thinking) आपके जीवन में काफी सकारात्मक बदलाव ला सकती है। इससे आपके अंदर के Optimistic Outlook विकसित करने में, आपके शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य दोनों के लिए अच्छा बनाने में बहुत सहायता मिलती है,

    लेकिन कभी-कभी जीवन में कुछ ऐसी परिस्थितियां भी उत्पन्न हो जाती हैं जिससे सकारात्मक दृष्टिकोण (Positive Outlook) रखना काफी ज्यादा कठिन हो जाता है। सकारात्मक सोच (Positive Thinking) को हमें अपने दूसरे स्वभाव की तरह बनाने के लिए कुछ कदम उठाने की जरूरत पड़ती है, इसीलिए आज के इस आर्टिकल Positive Kaise Soche? में मैं आपको हमेशा सकारात्मक कैसे सोचें? इस बारे में काफी बेहतर ढंग से समझाने वाला हूं, तो इसे आगे तक पढ़ते रहिए, लेकिन उससे पहले ये सकारात्मक विचार कहते किसे हैं इसके बारे में भी जान लेना बेहद आवश्यक है तो आइए सबसे पहले इसके बारे में थोड़ा समझ लेते हैं।

    Positive Kaise Soche
    Positive Kaise Soche

    सकारात्मकविचार (Positive Thinking) किसे कहते हैं | सकारात्मकसोच (Positive Thinking) क्या हैं?

    सकारात्मक सोच (Positive Thinking) अच्छे और अनुकूल परिणामों की अपेक्षा करने का मानसिक और भावनात्मक रवैया है, इसमें जब भी हमारी कोई Plannings अपेक्षित रूप से आगे नहीं बढ़ पाती हैं तो इससे हम काफी ज्यादा निराश होने के बजाए उसके पीछे के कारण को जानकर और Positive रहकर दुबारा से कोशिश करते हैं। इसका मतलब यह है की हमें फिर से कोशिश करने से और उस हार को स्वीकार करने से कभी भी नही घबराना चाहिए। यह एक स्थिति में अच्छे और सकारात्मकता पर ध्यान केंद्रित करने का दृष्टिकोण है, न कि नकारात्मकता पर।

     इस मनःस्थिति के साथ, आप कभी भी अपनी हार नहीं मानते हैं, और किसी भी नकारात्मक चीज को अपने Mood और मनःस्थिति को प्रभावित नहीं करने देते हैं। एक सकारात्मक सोच (Positive Thinking) वाला व्यक्ति बुरे पर नहीं बल्कि लोगों में अच्छाई पर ज्यादा ध्यान देता है। सकारात्मक सोच का अर्थ है (Meaning Of Positive Thinking) आशावाद और सकारात्मक दृष्टिकोण। जिसका अर्थ होता है आगे देखना, एक बेहतर और खुशहाल जीवन की कल्पना करना, बाधाओं, समस्याओं या देरी से कभी ना घबराना, एक सकारात्मक मानसिकता वाला व्यक्ति लोगों को हमेशा प्रोत्साहित और प्रेरित करेगा, और उन्हें अच्छा महसूस कराने का प्रयास करता रहेगा।

    हमेशा पॉजिटिव कैसे सोचे | Best Ways To Think Positive Always In Hindi | हमेशा पॉजिटिव सोचने के लिए क्या करना चाहिए? IN HINDI | Positive Kaise Soche

    सकारात्मक Affirmation के साथ दिन की शुरुआत करें:

    आप सुबह की शुरुआत कैसे करते हैं? यह पूरे दिन के लिए एक टोन सेट कर देता है। क्या आप कभी देर से उठते हैं, घबराते हैं, और फिर ऐसा महसूस करते हैं कि बाकी दिन कुछ भी अच्छा नहीं हुआ? यह संभव है क्योंकि आपने दिन की शुरुआत एक नकारात्मक भावना और एक निराशावादी दृष्टिकोण के साथ की थी जो आपके द्वारा अनुभव की जाने वाली हर दूसरी घटना में शामिल थी। इसे आप खुद पर हावी होने देने के बजाय, अपने दिन की शुरुआत सकारात्मक (Positive) Affirmations के साथ करें। हर दिन हर वक्त खुद को बोले

    • मैं आज बहुत खुश हूँ
    • आज का दिन बहुत अच्छा है
    • आज में कुछ नया करूँगा
    • ऐसी कोई चीज नहीं है जो मैं नहीं कर सकता
    • मैं सब कुछ कर सकता हूँ

    ऐसी लाइन खुद को बोलने से आप एकदम मस्त महसूस करोगे और धीरे धीरे आपकी सोच एकदम पॉजिटिव हो जाएगी इससे बहुत फर्क पड़ेगा बस ऐसी लाइन खुद को बोलते रहिये

    अपने मन को कंट्रोल में रखो:

    अपने मन को कंट्रोल में रखो हमेशा लोगों में और जो कुछ कर रहे हो उसमे अच्छी अच्छी चीजों पर ध्यान दो बुरी बात पर नहीं की इसमें ये कमी है उसमे वो कमी है ऐसा मत करो

    हमेशा पॉजिटिव लोगों के साथ रहे:

    इस से भी फर्क पड़ता है की हम किस तरह के लोगों के साथ रह रहे है इस लिए हमेशा पॉजिटिव लोगों के साथ रहे हमेशा पॉजिटिव रहने वाले लोग जिंदगी में बहुत आगे बढ़ते है क्योंकि जैसे लोगों के साथ आप रहोगे वैसे ही आप बन जाओगे

    नेगेटिव लोगों हमेशा से दूर रहो:

    नेगेटिव सोच रखने वाले लोग खुद तो कुछ नहीं करेंगे और आपको भी कुछ नहीं करने देंगे जब भी आप कुछ नया करने की कोसिस करोगे तो वो तुरंत आपको बोलेंगे नहीं नहीं ऐसा नहीं करना चाहिए वैसा नहीं करना चाहिए ये करोगे तो वो हो जायेगा वो करोगे तो ये हो जायेगा इस लिए नेगेटिव सोच वाले लोग जिंदगी में कुछ भी नहीं कर सकते बस ये सिर्फ हर चीज में उल्टा और बुरा ही सोचेंगे नेगेटिव सोच वाला इंसान पूरी जिंदगी सिर्फ सोचता ही रह जाता है वो कर कुछ नहीं पाता इस लिए ऐसे लोगों से हमेसा दूर ही रहना चाहिए

    बुरी परिस्थितियों में भी हंसी-मज़ाक को खोजें:

    अपने आपको अपनी सबसे बुरी या सबसे कठिन परिस्थितियों में भी हंसी – मज़ाक का अनुभव करने दें। अपने आपको याद दिलाएं कि यह स्थिति शायद बाद में एक अच्छी कहानी बनाएगी और इसके बारे में एक मजाक बनाने की कोशिश करेगी। इसीलिए आपके जीवन में कोई भी बुरी परिस्थिति आए तब उससे आप कभी भी घबराना मत चालू करो, बल्कि उस खराब परिस्थिति का भी मजाक उड़ाना चालू कर दो, जिससे की वो परिस्थिति चाहे कितनी भी खराब क्यों ना हो उसमें भी यदि आप हंसी – मजाक को जोड़ देंगे तो उससे बाहर आने में आपको काफी मदद मिलेगी।

    असफलताओं को सबक में बदलना सीखो:

    आप खुद से ये बात हमेशा कह कर रखिए की आप या कोई और भी हर काम में Perfect नहीं होता हैं। आप कई संदर्भों में, कई नौकरियों में और कई लोगों के साथ गलतियाँ करने और विफलता का अनुभव करेंगे। आप कैसे असफल हुए, इस पर ध्यान केंद्रित करने के बजाय, इस बारे में सोचें कि आप अगली बार क्या करने जा रहे हैं अपनी विफलता को एक सबक में बदल दें। और बस अगली बार उस सबक को अपने ध्यान में रख कर आगे के मार्ग पर बढ़ना शुरू कर दें।

    आज में जीना सीखो और ज्यादा सोचो मत:

    दोस्तों मैं आपसे वर्तमान की बात कर रहा हूं-आज नहीं, इस घंटे की नहीं, केवल यही सटीक क्षण की हर एक पल को जीना सीखो

    गुजरी हुई जिंदगी को कभी याद ना कर
    तकदीर में जो लिखा है उसकी फरियाद ना कर
    जो होगा वो होकर रहेगा
    तु कल की फिकर में
    अपनी आज की हंसी बर्बाद ना कर

    पॉजिटिव सोचने के फायदे क्या – क्या है? | What Are The Benefits Of Thinking Positive In Hindi

    जिंदगी में बहुत सफल बनाती है:

    सकारात्मक सोच रखने वाला व्यक्ति बहुत सफल होता है क्यूंकि वो कुछ भी करने से पहले कुछ नेगेटिव नहीं सोचता जिससे वो कभी भी पीछे हटने के बारे में नहीं सोचता और अगर हार भी मिले तो ये सोच कर आगे बढ़ता है की हार जित तो चलती रहती है दूसरी बार और मेहनत करूँगा और ऐसा करके वो एक दिन बहुत सफल होता है और इस तरह Positive सोच रखने वाले लोग अपने काम में अधिक सफल होते हैं – अधिक पैसा कमाते हैं इसीलिए हमेशा सकारात्मक सोच (Positive Thinking) से भरे रहें अगर कभी नकारात्मकता (Negativity) आती भी है तो उसे तुरंत आपको दूर करना होगा इसी में आपकी और आपके आस पास के लोगों की भलाई है।

    खुश रहना:

    पॉजिटिव सोच रखने वाला व्यक्ति हमेशा खुश रहता है चाहे जितनी भी ख़राब परिस्थिति क्यों ना हो वो उस पर ध्यान नहीं देता और ना ही उस परिस्थिरी के तनाव को अपने ऊपर कभी हावी नहीं होने देता और ना ही उस परिस्थिति में टूटता है वो परिस्थिति को भी बदल देता है वो कभी भी भगवान या नसीब को नहीं कोसता

    सकारात्मक सोच से हमारा आत्मविश्वास बढ़ता है:

    सकारात्मक सोच से हमारा खुद पर विश्वास बहुत बढ़ जाता है और जिसे खुद पर विश्वास हो वो सब कुछ कर सकता है और जो इंसान कुछ भी कर सकता है वो एक दिन दुनिया में जरूर नाम कमाता है

    निष्कर्ष:

    दोस्तों अब तक तो आपको हमेशा Positive Kaise Soche? इस सवाल का एकदम सरल जवाब मिल ही गया होगा की यह सब नकारात्मकता (Negativity) को नियंत्रित करने और इसे सकारात्मक सोच से बदलने के बारे में है। सकारात्मक सोच (Positive Thinking) के लिए अनुशासन और अभ्यास की आवश्यकता होती है, लेकिन जब इसका उपयोग किया जाना चाहिए, तो यह आपके जीवन में सकारात्मक परिणाम पैदा कर सकता है

    यदि हम अत्यधिक मात्रा में सकारात्मक ऊर्जा उत्पन्न करते हैं तो हम प्रतिदिन अपने लिए सकारात्मक स्थितियाँ निर्मित करते हैं। और बाकी लोगों के मुकाबले अधिक खुशहाल रहते हैं, तो मैं उम्मीद करता हूं की आपको इस आर्टिकल में बताई सभी बातें अच्छे से समझ में आ गई होंगी, लेकिन फिर भी अगर आपके दिमाग में कोई भी सवाल उमड़ रहें हैं तो आप उन्हे भी मुझसे कमेंट करके ज़रूर पूछ सकते हैं।
    इसे पढ़े: Self Confidence Kaise Badhaye

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *