Home » Meditation Ke Fayde in Hindi | Meditation Kaise Karte Hai

Meditation Ke Fayde in Hindi | Meditation Kaise Karte Hai

    यह लेख आपको बताएगा कि मेडिटेशन (ध्यान लगाना) किसे कहते हैं? और इसको करने से हमें क्या-क्या फायदे मिल सकते हैं, ध्यान (Meditation) और Mindfulness हाल के वर्षों में काफी ज़्यादा Popular हो गए हैं फिर भी ज्यादातर लोग वास्तव में ध्यान (Meditation) को अभी भी परिभाषित नहीं कर सकते हैं,

    मेडिटेशन (Meditation) को तकनीकों के एक समूह के रूप में परिभाषित किया जा सकता है जिसका उद्देश्य जागरूकता और केंद्रित ध्यान की बढ़ी हुई स्थिति को प्रोत्साहित करना है। Meditation भी एक बदलती तकनीक है जिसे मनोवैज्ञानिक (Psychologist) कल्याण पर व्यापक लाभ के लिए दिखाया गया है। यदि आप भी What Do You Mean By Meditation के बारे में और भी अच्छे तरीके से जानना चाहते हैं,

    या इसे बेहतर ढंग से करने के तरीकों के बारे में जानना चाहते हैं तो इस लेख को अंत तक पढ़ते रहिए, क्योंकि इस लेख में मैने आप सभी को Meditation और इसके विभिन्न लाभों (Advantages) के बारे में काफी सरल भाषा में बताया है जो की आपको काफी अच्छी तरह से समझ आ जाएगा,

    Meditation Ke Fayde
    Meditation Ke Fayde

    Table of Contents

    Meditation Kya Hota Hai? | What Is Meditation In Hindi | मेडिटेशन (Meditation) क्यों करना चाहिए? | मेडिटेशन (Meditation) करने के क्या फायदे होते हैं?

    ध्यान (Meditation) गहराई से सोचने या किसी के दिमाग को कुछ समय के लिए केंद्रित करने का अभ्यास है। जो कि मौन में या जप की सहायता से, और कई तरीकों से किया जाता है, धार्मिक या आध्यात्मिक (Spiritual) उद्देश्यों से लेकर विश्राम को जगाने की एक विधि तक, यह सब कुछ Meditation को करने के लिए किया जा सकता है, हमारी Modern और व्यस्त दुनिया में, ध्यान (Meditation) ने हाल के वर्षों में तनाव को प्रबंधित करने के तरीके के रूप में एक तरह से हल प्राप्त किया है। काफी सारे Scientific प्रमाण भी सामने आए हैं जो बताते हैं कि ध्यान (मेडिटेशन) पुरानी बीमारियों से लड़ने में भी मददगार हो सकता है, जिसमें अवसाद (Depression), हृदय रोग और पुराने दर्द शामिल हैं।

    ये तो था की आखिर Meditation Kya Hota Hai? अब हम जानेंगे कि हमें मेडिटेशन (Meditation) क्यों करना चाहिए? या मेडिटेशन (Meditation) करने के क्या फायदे होते हैं?

    ध्यान (Meditation) अधिक Energy और अधिक Efficiency प्रदान करता है:

    मेडिटेशन व्यक्ति के दिमाग को साफ करता है और उसकी ऊर्जा (Energy) के स्तर को बढ़ाता है। Meditation हमारी वेगस Nerve को उत्तेजित कर सकता है, जो सकारात्मक भावनाओं (Positive Emotions) और विश्राम को बढ़ावा देती है। एक हालिया अध्ययन (Research) से पता चलता है कि ध्यान (Meditation) Entrepreneurs के बीच थकावट को कम करता है क्योंकि यह उनके कार्यस्थल के तनाव को भी कम कर देता है, जिससे की उन्हे अधिक शांति और ऊर्जा मिलती है। और वही दूसरी ओर काम करने की क्षमता भी स्वाभाविक रूप से बढ़ती है क्योंकि आप अधिक ऊर्जावान महसूस करते हैं और मन की स्पष्टता भी अधिक होती है।

    मेडिटेशन Mental Health के प्रबंधन में मदद करता है:

    एकशोध (Research) से यह मालूम चला है की Mediation करने से आपका मानसिक स्वास्थ्य (Mental Health) पर भी काफी अच्छा खासा असर पड़ता है, यह आपके तनाव को दूर करने, चिंता को कम करने, दयालुता बढ़ाने, आत्म-जागरूकता और आत्म-सम्मान में सुधार करने में भी आपकी पूरी मदद करता है।

    Focus, ध्यान और Memory में सुधार करता है:

    ध्यान (Meditation) आपके एकाग्रता (Concentration) में सुधार करता है और व्यक्ति को वर्तमान (Present) में रहने में मदद करता है। यदि आप ध्यान दें, तो आपको पता लगेगा की आपका मन अतीत (Past) और भविष्य (Future) के बीच झूलता रहता है। हम या तो अपने अतीत के बारे में क्रोधित होते हैं या भविष्य के बारे में चिंतित होते हैं। लेकिन ध्यान (मेडिटेशन) मन को वर्तमान में लाने में काफी मदद करता है। जैसा कि होता है, फोकस और ध्यान अवधि में सुधार होता है। मेडिटेशन से दिमाग में Gray Matter भी बेहतर होता है, जिससे की आपकी याददाश्त (Memory) में भी सुधार होता है।

    रिश्तों में सुधार करता है:

    जैसा कि आप ध्यान (Meditate) करते हैं और आपकी जागरूकता में सुधार होता है, आप दूसरों को दोष देने और क्रोध जैसी नकारात्मक भावनाओं (Negative Feelings) में लिप्त होने की संभावना कम करते हैं। घटनाओं पर आपकी पकड़ कम हो जाती है, और आप वह व्यक्ति बन जाते हैं जो उस छोटे से झगड़े को काफी आसानी से दूर कर देता है। अब ऐसा व्यक्ति आख़िर किसे पसंद नहीं है? जो की केवल आपके मेडिटेशन करने की वजह से हो पाया है, इससे आपके अंदर वह Hormone जागरूक होता है जो प्यार और सामाजिक बंधन की भावनाओं को अधिक बढ़ावा देता है।

    Meditation Kaise Karte Hain | Best 6 Ways To Do Meditation For Beginners In Hindi | Meditation (ध्यान) करनेके 6 बेस्ट तरीके | How To Do Meditation HINDI

    STEP 1.  अपना मंत्र चुनें:

    मंत्र एक शब्द या वाक्यांश (Phrase) है जिसे आप ध्यान (Meditation) के दौरान चुपचाप अपने आप को दोहराते हैं। मंत्र का उद्देश्य आपको अपने विचारों के अलावा किसी और पर अपना ध्यान लगाने के लिए कुछ देना होता है। आप अपनी पसंद के किसी भी वाक्यांश का उपयोग कर सकते हैं।

    STEP 2. बैठने के लिए एक आरामदायक जगह खोजें:

    एक शांत स्थान ढूंढना सबसे अच्छा है जहां आपको परेशान नहीं किया जाएगा। आपको फर्श पर Cross – Legged बैठने की कोई जरूरत नहीं है जब तक कि यह आपके लिए आरामदायक न हो। आप कुर्सी या सोफे पर या फर्श पर दीवार के सहारे अपनी पीठ के बल बैठ सकते हैं। आप कुशन, तकिए या कंबल के साथ भी अपना समर्थन कर सकते हैं। लक्ष्य सिर्फ यही है की आपको आराम से रहते हुए जितना संभव हो उतना सीधा बैठना है।

    STEP 3. धीरे से अपनी आँखें बंद करें और कुछ गहरी साँसें लेकर शुरू करें:

    अब आप अपनी नाक से धीरे-धीरे श्वास Breathing) लेते हुए और अपने मुँह से साँस छोड़ते हुए कुछ शुद्ध साँसें लेने का प्रयास करें। कुछ साफ सांसों के बाद, अपने होठों को धीरे से बंद करके अपनी नाक से सामान्य आराम की गति से सांस लेना जारी रखें।

    STEP 4. अपनी जीभ या होठों को हिलाए बिना चुपचाप अपने मंत्र को दोहराना शुरू करें:

    आपके मंत्र का जप कोमल और शिथिल है। इसे जबरदस्ती करने की जरूरत नहीं है। मंत्र को श्वास से संबंधित होने की आवश्यकता नहीं है, हालांकि कुछ लोग ऐसा करना पसंद करते हैं। जैसे-जैसे आपका ध्यान (Meditation) जारी रहे, श्वास को अपनी ही लय में गिरने दें। अपके मंत्र की Repetition लगभग सहज (Easy) होनी चाहिए। कभी-कभी यह कल्पना करना उपयोगी होता है कि मंत्र को स्वयं दोहराने के बजाय, आप वास्तव में इसे अपने कान में फुसफुसाते हुए सुन रहे हैं।

    STEP 5. अपने दिमाग में आने वाले Thoughts को रोकने की कोशिश न करें:

    जैसा कि आप इस ध्यान (Meditation) प्रक्रिया को जारी रखते हैं, आप ज़रूर यह पाएंगे कि आप मंत्र से दूर हो गए हैं। यह मानव स्वभाव है और मन का भटकना भी सामान्य ही है। इसीलिए यह कोशिश बिल्कुल भी मत करो और ना ही अपने दिमाग में आने वाले विचारों को रोको, जब भी आपको पता चले कि ध्यान (मेडीटेशन) करते समय आपका ध्यान आपके मंत्र से हटकर विचारों या किसी अन्य Distraction की ओर चला गया है, तो बस चुपचाप मंत्र को दोहराते हुए वापस आ जाएं।

    STEP 6. समाप्त करने के लिए तैयार करें:

    अब आप अपनी शारीरिक भावनाओं के बारे में जागरूक हो जाएं, आपके नीचे की कुर्सी के बारे में, जहां आपके पैर फर्श से संपर्क करते हैं, आपकी बाहें और आपके हाथ अभी आपकी गोद में आराम कर रहे हैं। आप जो कुछ भी सुन सकते हैं, सूंघ सकते हैं, स्वाद ले सकते हैं या महसूस कर सकते हैं, उस पर वापिस से ध्यान दें। उसके बाद जब आप तैयार हों, तो धीरे-धीरे अपनी आँखें खोल सकते हैं और वापिस से Normal हो सकते हैं।

    निष्कर्ष:

    ये था आज का लेख जिसमें की हमने सीखा की मेडिटेशन (ध्यान लगाना) किसे कहते हैं? या कहें तो Meditation Ke Fayde in Hindi | Meditation Kaise Karte Hai जिसके अंदर मैने आप सभी को यह भी समझाया की मेडिटेशन (Meditation) करने के क्या-क्या फायदे होते हैं? और इन फायदों को समझ कर हम इसे (Meditation) को अपनी जिंदगी में कैसे उतार सकते हैं, मैं उम्मीद करता हूं की आपको इसमें बताई गई सभी बातें काफी अच्छे से समझ में आई होंगी, जिन्हे आप ज़रूर अपनी Life में उतारेंगे और इनका फ़ायदा लेंगे।

    इसे पढ़े: How To Set Goals and Achieve Them in Hindi
    इसे पढ़े: Dar Ko Kaise Dur Kare
    इसे पढ़े: How To Earn Money Online in Hindi
    इसे पढ़े: Positive Kaise Soche in Hindi

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *