Home » How To Invest in Stocks For Beginners With Little Money Hindi

How To Invest in Stocks For Beginners With Little Money Hindi

    How To Invest in Stocks For Beginners With Little Money Hindi, How To Start Investing in Stock Market in Hindi, Share Market Tips in Hindi कम पैसों से शेयर बाज़ार में निवेश कैसे करें? | How To Invest in Stocks For Beginners With Little Money Hindi – काफी सारे लोग अक्सर Share Market के अंदर निवेश से पहले ही उसे बंद कर देते हैं क्योंकि उन्हें ये लगता है कि शेयर बाजार में निवेश शुरू करने के लिए उन्हें बहुत अधिक धन की या पैसों की ज़रूरत होने वाली है। लेकिन, मैं आपको बता दूं की ऐसा कुछ भी नहीं है। आप हमारे इस Article – कम पैसों से शेयर बाज़ार में निवेश कैसे करें? को पढ़कर के अपना निवेश सिर्फ़ और सिर्फ़ ₹500/- Month से भी कम से शुरू कर सकते हैं। । संपत्ति को बनाने की असल कुंजी अच्छी आदतों को अपने अंदर विकसित करना है, जैसे कि हर महीने शेयर बाजार के अंदर नियमित रूप से छोटी राशि (Small Funds) का निवेश करना। अगर आप नियमित रूप से निवेश करने की आदत बनाते हैं तो आप भविष्य (Future) के अंदर एक बेहद मजबूत Financial Condition में होंगे।

    लेकीन आपके मन में ये सवाल अब आ सकता है कि कम पैसे में शेयर बाजार में निवेश कैसे करें? या How To Invest in Stocks For Beginners With Little Money Hindi

    कम पैसे से निवेश (Investment) शुरू करने के काफी सारे तरीके हैं और अब तो वैसे भी ऑनलाइन और App Based Platform की मदद से इसे काफी ज़्यादा आसान भी बना दिया गया है, आपको बस कहीं ना कहीं से शुरुआत करनी होगी। बस इसमें आपको बताई गई सभी बातों का ख्याल रख कर नीचे बताए गए सभी Steps का पालन करना होगा और सीखना है कि भारतीय शेयर बाजार में कम पैसे में कैसे निवेश कर सकते हैं?

    तो आईए जानते हैं की कैसे कम पैसों में भी आप शेयर बाज़ार से अच्छा लाभ कमा सकते हैं,

    How To Invest in Stocks For Beginners With Little Money
    How To Invest in Stocks For Beginners With Little Money

    कम पैसों से शेयर बाज़ार में निवेश कैसे करें? | How To Invest in Stocks For Beginners With Little Money Hindi

    एक Clear निवेश का लक्ष्य रखें

    कोई भी निवेश की जाने वाली राशि, चाहे वह बड़ी हो या छोटी, एक Financial Goal प्राप्त करने के लिए ज़रूर से Set की जानी चाहिए। शेयर बाज़ार के अंदर आपका लक्ष्य (Goal) बेहद ज़रूरी कारक है क्योंकि यह निवेश के प्रकार, कार्यकाल और माध्यम को तय करता है। जब आप शेयर बाजार में प्रवेश करते हैं, तो आप सभी को लंबी अवधि (Long Term) तक के निवेश की सलाह दी जाती है। छोटी अवधि (Short Term) के निवेश की तुलना में लंबी अवधि के निवेश में आपके नुकसान की संभावना कम होती है, और आप हमेशा अपनी स्थिति को सही तरह से Adjust कर सकते हैं। इसलिए, लक्ष्य निर्धारित (Goal Set) करना, Long Term और नियमित रूप से छोटे निवेश करना हमेशा एक बुद्धिमानी का काम है।

    छूटे हुए Contribution की भरपाई करें

    नियमित रूप से कम पैसों में निवेश करना उतना ही कुशल है जितना कि एक बार में Lump Sum Amount का निवेश कर देना। इसके अंदर Main बात लगातार बने रहना और नियमित अंतराल पर निवेश करते रहना है। अगर कोई Urgent Situation भी पैदा हो जाती है और आप एक निवेश चूक जाते हैं, तो अगले अंतराल पर उसके Contribution को दोगुना करके छूटी हुई राशि की भरपाई ज़रूर से कर लें। छूटे हुए निवेश की भरपाई करने से आपका Financial Goal ट्रैक पर रहेगा और लंबे समय में आपका निवेश आपको अनुशासन की अनुमति भी देगा।

    भावनाओं को Control करके रखें

    भावनाएं एक बेहद जरूरी कारक हैं जो एक निवेशक के निवेश के निर्णयों को काफी ज़्यादा प्रभावित करती हैं। गलत निवेश निर्णय लेने की संभावना तब बढ़ जाती है जब निवेशक (Investor) अपनी भावनाओं को अपने निवेश निर्णयों पर हावी होने देते हैं। इसलिए, निवेश करते वक्त अपनी भावनाओं को नियंत्रित करना या Control में रखना बुद्धिमानी है। क्योंकी नुकसान लंबी अवधि के निवेश का एक हिस्सा है, इसलिए आपको कुछ नुकसान का एहसास होते ही निवेश करना बंद नहीं करना चाहिए। यह जानते हुए कि आपने अच्छे शेयरों में निवेश किया है, तो ऐसे में आपको इंतजार करना चाहिए, अपनी मौजूदा पोजीशन नहीं बेचनी चाहिए और आगे निवेश करते रहना चाहिए।

    जोखिम की सहनशीलता को ध्यान में रखें

    अपने पैसे का निवेश करने से पहले, अपनी जोखिम सहनशीलता को Analyse कर लेना बेहद ज़रूरी है। जोखिम सहनशीलता जोखिम की आपकी धारणा के साथ-साथ आपके सहनशीलता स्तर की समझ पर निर्भर करती है। अगर आप जोखिम से बचना चाहते हैं, तो केवल ब्लू-चिप शेयरों में ही निवेश करें, जिन्हें आमतौर पर अपेक्षा से सुरक्षित माना जाता है। और अगर आपकी जोखिम उठाने की क्षमता अधिक है, तो आप अस्थिर शेयरों में भी निवेश कर सकते हैं।

    Basic बातों पर ध्यान दें

    किसी भीसफल निवेश के लिए शेयर बाजारों की गहरी समझ की ज़रूरत होती है। शेयर बाजार की प्रकृति को जानने और अलग-अलग शेयरों को Analyse करने के बाद ही आप सफलता से निवेश कर सकते हैं। Basic बातें जानना निवेश संबंधी निर्णय लेने की दिशा में आपका एक सही कदम है। उसकी Knowledge होने से आपको निवेश से जुड़े असली जोखिमों को समझने में काफी ज़्यादा मदद मिलेगी और यह सुनिश्चित होगा कि आपके निवेश सुरक्षित हैं।

    धीमी शुरुआत करें

    निवेश करना कोई किसी तरह की दौड़ नहीं है। पैसे बनाने के लिए आपको शुरू करने और उसमे रहने की ज़रूरत है। अगर आपके पास निवेश करने के लिए 1000 रुपये हैं, तो अपने बजट में आने वाले शेयरों की तलाश करें और सबसे Best Option ही खोजें।

    धीरे-धीरे लेकिन निश्चित रूप से, जैसे-जैसे आपकी बचत बढ़ती है और बाजार के बारे में आपकी समझ बढ़ती है, आपके पास स्टॉक का एक अच्छा पोर्टफोलियो होगा जिसे आपने अपने Investor Profile के आधार पर चुना है।

    अपनी बचत पर ध्यान दें

    पैसा बचाना एक बड़ी बाधा की तरह लग सकता है, यह आपकी सोच से बहुत ही आसान है। आपको बस शुरूआत करनी है। अपने महीने के खर्चों के लिए एक बजट बनाएं और इसमें एक निश्चित राशि को शामिल करें जो आप बचाएंगे। ज़्यादा नही अगर आप हर महीने 500/1000 रुपय तक बचा सको तो वो भी अच्छा है, समय के साथ, यह आपको निवेश करने में भी मदद ज़रूर से करेगा।

    ख़ुद को वास्तविक बनाओ

    हर निवेश के अंदर आपको दो अंकों का रिटर्न देने की क्षमता नहीं होती है। आपको यह समझना होगा कि लगातार रिटर्न के लिए अनुशासन, धैर्य और गहरी Knowledge की ज़रूरत होती है। खुद को वास्तविक बनाना शेयर बाजारों में सफल होने का एक प्रमुख साधन है। ज़्यादा अपेक्षा से आप अधिक गलत निवेश निर्णय ले सकते हैं और आप ख़ुद को नुकसान का एहसास करने के लिए मजबूर भी कर सकते हैं।

    अलग-अलग Shares में Invest करें

    अलग-अलग Shares में Invest करना आपके निवेश के जोखिम को कम करने के लिए सबसे अच्छी रणनीतियों में से एक है। जब आप अपने निवेश को अलग अलग श्रेणियों में बांट देते हैं, तो आप निवेश से जुड़े जोखिमों को भी बांट देते हैं। शेयर बाजारों के मामले में, आपको अपनी Investment के एक हिस्से को विशिष्ट क्षेत्रों के शेयरों में आवंटित करके और उसके अनुसार निवेश करके विभिन्न क्षेत्रों में अपने जोखिमों में विविधता लानी चाहिए।

    इसके साथ, अगर कोई ख़ास स्टॉक खराब प्रदर्शन करता है तो आपको चिंता करने की ज़रूरत नहीं होगी। हालांकि, इसमें एक भरे हुआ पोर्टफोलियो के लिए नेतृत्व नहीं करना चाहिए। अपने पोर्टफोलियो में सीमित संख्या में स्टॉक रखना ही बुद्धिमानी का काम है, क्योंकि बड़ी संख्या में स्टॉक की निगरानी करना मुश्किल हो सकता है और इससे आपको अपनें Goals हासिल नहीं हो पाएंगे।

    Penny Stocks से सावधान रहे

    Penny Stock ऐसे शेयर होते हैं जो 10 रुपये या उससे भी कम पर उपलब्ध होते हैं। हम यह नहीं कह रहे हैं कि सभी पेनी स्टॉक खराब हैं। हालांकि, ज्यादातर मामलों में, इन शेयरों की कीमत कम होती है क्योंकि इनकी मांग कम होती है। इसका मतलब है कि बाजार में इन शेयरों के लिए कोई खरीदार नहीं है। कंपनी की आर्थिक स्थिति को देखते हुए ऐसे शेयरों की कीमतें कम हो सकती हैं। यह ढहने के कगार पर हो सकता है।

    बहुत से निवेशक जिनके पास कम पैसा होता है, वे Penny Stocks की ओर रुख करते हैं क्योंकि वे सीमित संसाधनों को देखते हुए सबसे अच्छे Option की तरह लगते हैं। हालांकि इनमें वृद्धि की संभावना थोड़ी कम लग सकती है, ये स्टॉक उच्च जोखिम वाले स्टॉक हैं और आपको निवेश करने से पहले अपने जोखिमों पर विचार करना चाहिए।

    निष्कर्ष (Conclusion):

    आज के इस Article – How To Invest in Stocks For Beginners With Little Money Hindi के अंदर हम सभी ने जाना की हम कम पैसों से शेयर बाज़ार में निवेश कैसे करें? जिसके अंदर हमने ये समझा की आपके पास जितना पैसा है, वह कभी भी शेयर बाजारों में आपके निवेश को सीमित नहीं कर सकता है। Clear Goal वाली Investment से Long Term पैसों का निर्माण हो सकता है। आपको केवल एक विश्वास वाली ब्रोकरेज फर्म से सर्वश्रेष्ठ डीमैट और ट्रेडिंग अकाउंट चुनना है और निवेश करना शुरू करना है। आप IIFL Demat और Trading खाते का Option चुन सकते हैं और थोड़े से पैसे से निवेश शुरू कर सकते हैं। IIFL Demat और Trading Accounts के साथ, आपकी Quality Research तक पहुंच प्राप्त होती है जो की आपकी Investment की Journey को काफी सरल करता है।

    इसे पढ़े: Best Book For Share Market in Hindi
    इसे पढ़े: Share Market Investment Tips in Hindi
    इसे पढ़े: Intraday Trading VS Delivery Trading Which is Better in Hindi?
    इसे पढ़े: What is Intraday Trading in Hindi
    इसे पढ़े: 12 Best Motivational Books To Read in Hindi
    इसे पढ़े: Best Motivational Status in Hindi

    Leave a Reply

    Your email address will not be published.