Skip to content
Home » Best Tips For Share Market India in Hindi For Invest

Best Tips For Share Market India in Hindi For Invest

    Best Tips For Share Market India in Hindi For Invest, क्या आप भी Share Market mein Investment se Pehle kin Baton ka Dhyan rakhen? या Tips For Investing in Stock Market के बारे में जानना चाहते हैं? क्योंकि हम आज के इस Article के अंदर Stock Market mein nivesh se pehle kin baton ka dhyan rakhna chahiye? के बारे में ही जानने वाले हैं,

    देखिए जब आप निवेश के उद्देश्य से स्टॉक खरीदने का फैसला करते हैं, तो अपना Homework करना बेहद ज़रूरी है क्योंकि आप अपनी मेहनत की कमाई को इसमें निवेश कर रहे हैं। आपका लक्ष्य अच्छी Values प्राप्त करना होना चाहिए, खासकर जब आप लंबी अवधि के लिए स्टॉक खरीद रहे हों।

    लेकिन इससे पहले कि आप किसी कंपनी में अपना पूरा विश्वास रखें, आपको कुछ बातों का ध्यान रख लेना चाहिए, किसी भी स्टॉक के Fundamentals का Analysis करना चाहिए और स्टॉक खरीदने से पहले यह जांचना चाहिए कि क्या वह स्टॉक आपके पोर्टफोलियो में फिट बैठता है।

    आप केवल एक स्टॉक नहीं खरीद रहे हैं बल्कि आप उस कंपनी के Shareholder बन रहे हैं, इसलिए एक निवेशक के रूप में आपको सही तरह से Analyze करना ज़रूर से चाहिए।

    उनके अलावा आपको स्टॉक खरीदने और अपनी मेहनत की कमाई का निवेश करने से पहले आपको कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए जो की अब मैं आपको यहां बताने वाला हूं, वो Best Investing Tips in Stock Market नीचे दी गई हैं आप उन्हें पढ़ कर शेयर बाज़ार में नुकसान को कम करके अच्छा खासा मुनाफा कमा सकते हैं।

    Best Tips For Share Market India in Hindi For Invest

    Best Tips For Share Market India in Hindi For Invest
    Best Tips For Share Market India in Hindi For Invest

    शेयर बाजार में कभी भी आंख मूंदकर ना कूदें

    कई बार ऐसा होता है कि अपने दोस्तों और साथ काम करने वालों से बात करते वक्त चर्चा शेयर बाजार की ओर चली जाती है, और यह भी कि कैसे शेयर बाजार निवेशकों को बड़ा पैसा बनाने में मदद करता है। आपने कभी बाजार में निवेश नहीं किया होगा, लेकिन उन सभी चीजों के बारे में सुनने के बाद आप भी कुछ शेयर खरीदने का फैसला करते हैं। हालांकि, अगर आपने इसमें प्रवेश इसीलिए किया है क्योंकि ये आपको एक Fashion लगता है जिसे हर कोई Follow कर रहा है, तो आप बिल्कुल गलत कारण से उतरे हैं। आपको इसके बारे में Basic Knowledge प्राप्त करने के बाद और अपने Financial Goals के अनुसार ही शेयर बाजार में निवेश करना चाहिए।

    शेयर बाजार को पैसा कमाने की मशीन ना समझें

    आपने कई निवेशकों की कहानी सुनी होगी जिन्होंने बाजार के जरिए अपना भाग्य बनाया। बहुत से लोग मानते हैं कि शेयर बाजार एक पैसा बनाने वाली मशीन की तरह है, जो उन्हें समय के साथ करोड़पति बना सकता है। खैर, यह सच है कि बहुत सारे निवेशकों ने शेयर बाजार से मुनाफा कमाया है। लेकिन यह केवल इसलिए संभव था क्योंकि उनके पास बाजार की अच्छी Knowledge है, उन्होंने रणनीतियों के बारे में सावधानी से सोचकर कुछ वास्तव में Smart Option चुनें हैं, और खुद से काफी अनुशासित भी हैं। बहुत से लोग भूल जाते हैं कि काफी सारे  लोगों ने तो अपनी पूरी संपत्ति तक खो दी है, जबकि कुछ को बाजार में नुकसान को कवर करने के लिए अपनी निजी संपत्ति बेचने के लिए मजबूर होना पड़ा है।

    खुद को Educate करें, पहले Basic बातों को जानें

    अपना पहला निवेश करने से पहले, शेयर बाजार के बारे में मूल बातें जानने के लिए समय निकालें। एक पुरानी कहावत है: यह शेयर बाजार नहीं, बल्कि शेयरों का बाजार है। आपका ध्यान इसमें अपने Basics को Clear करने में होना चाहिए और आपको खुद को Educate करना चाहिए की ये Share Market का खेल आखिर खेला कैसे जाता है, और कैसे आप इसमें अपने नुकसान की जगह पर लाभ कमा सकते हैं।

    केवल अपने Extra बचे हुए पैसों को ही निवेश करें

    ये शेयर बाज़ार में पैसा लगाने से पहले ध्यान में रखने वाली सबसे ज़रूरी बात है की अक्सर Beginner निवेशक जो सबसे बड़ी गलती करते हैं, वह पैसा निवेश करना है जिसे वे वास्तव में खोने का जोखिम नहीं उठा सकते। शेयर बाजार में निवेश करना जोखिम भरा है, और इसका मतलब है कि आप काफी हद तक अपना सब कुछ खो सकते हैं। अगर आप शेयर बाजार में जोखिम उठाना चाहते हैं, तो केवल अपने Extra बचे पैसों का ही निवेश करें जिसे आप खोने का जोखिम उठा सकते हैं। निवेश हमेशा अधिक धन उत्पन्न करने के लिए किया जाता है, लेकिन उसके लिए अपने सभी Emergency Funds को शेयर बाजार में निवेश न करें।

    Leverage से बचें

    लीवरेज का सीधा सा मतलब है उधार ली गई रकम का इस्तेमाल अपनी शेयर बाजार रणनीति को अंजाम देने के लिए अपने मार्जिन खाते में करना, बैंक और ब्रोकरेज फर्म आपको स्टॉक खरीदने के लिए पैसे उधार दे सकते हैं। जब शेयर बाजार ऊपर जा रहा हो तो यह बहुत अच्छा लगता है, लेकिन जब शेयर बाजार या आपका स्टॉक नीचे जाता है तो इसके दूसरी तरफ विचार करें। उस स्थिति में आपका नुकसान न केवल आपके शुरुआती निवेश को नष्ट कर देगा, बल्कि आपको ब्रोकर को ब्याज भी देना होगा। इस प्रकार, Leverage एक ऐसा Tool है, जो न तो अच्छा और न ही बुरा है। हालांकि, अपनी निर्णय लेने की क्षमताओं के बारे में अनुभव और आत्मविश्वास हासिल करने के बाद इसका सबसे अच्छा इस्तेमाल किया जा सकता है। इसलिए अपने जोखिम को सीमित करें जब आप यह सोच रहे हैं कि आप लंबी अवधि में लाभ कमा सकते हैं।

    कम कीमत वाले शेयरों में निवेश करना हमेशा लाभदायक नहीं होता है

    कम कीमत वाले स्टॉक, जिन्हें अक्सर पेनी स्टॉक के रूप में जाना जाता है, बड़ी संख्या में निवेशकों को लुभा रहे हैं। इसका पहला कारण यह Fact है कि ये स्टॉक बड़े लाभ कमाने की एक बड़ी संभावना प्रदान करते हैं। हालांकि, पेनी स्टॉक निवेश से जुड़े जोखिम बहुत अधिक हैं। निवेशकों को यह याद रखने की सलाह दी जाती है कि कंपनी के शेयरों की कीमत उसके खराब प्रदर्शन के कारण कम है और उनमें निवेश करने से बचना ही समझदारी है।

    लालची होने से बचें

    शेयर बाजार की कोई भी पहले से भविष्यवाणी नही कर सकता है। यहां तक ​​​​कि Professional Traders भी बाजार की चाल को सही ढंग से समय नहीं दे पाते हैं, जिससे शुरुआती लोगों के लिए यह लगभग असंभव हो जाता है। निवेशकों को सलाह दी जाती है कि वे अपने फंड का निवेश करने से पहले अपनी Entry और Exit की कीमतों का निर्धारण करें। इसके अलावा, एक बार लक्ष्य पूरा हो जाने के बाद, उन्हें अपनी Position बंद करनी होगी और अपने मुनाफे को Book करना होगा। शेयर बाज़ार की एक ज़रूरी बात जो हर किसी को ध्यान में रखनी चाहिए की कभी भी लालची नहीं होना चाहिए क्योंकि बाजार की स्थिति कब आपके लिए बिगड़ जाए कोई नही बता सकता।

    मौलिक रूप से मजबूत कंपनियों को चुनें

    आपको मजबूत फंडामेंटल वाली कंपनियों में निवेश करने पर विचार करना चाहिए। ऐसी कंपनियां न केवल लंबे समय में बेहतर रिटर्न प्रदान करती हैं बल्कि निवेशकों को अधिक Liquidity भी देती हैं। मौलिक रूप से मजबूत कंपनियों में शेयर बाजार में उतार-चढ़ाव का सामना करने की क्षमता भी होती है। इस तरह वे निवेश के लिए काफी ज़्यादा सुरक्षित रास्ता भी हैं।

    अपनी भावनाएं नियंत्रित करें

    शेयर बाजार के निवेशकों के लिए सबसे बड़ी बाधाओं में से एक उनकी भावनाओं को नियंत्रित करने की चुनौती है। Emotional Trading और निवेश अक्सर Illogical निर्णय लेने की ओर ले जाता है। जानकारों का कहना है कि शेयर बाजार में भावनाओं की कोई भूमिका नहीं होती. आपको स्टॉक में तभी प्रवेश करना चाहिए और बाहर निकलना चाहिए जब आपकी Target Value पूरी हो जाए। निवेशकों को बाजार में उतार-चढ़ाव के दौरान घबराने और तनाव से बचना चाहिए।

    Stop Loss का इस्तेमाल करें

    अगर आप शेयर बाजारों में नए हैं, तो स्टॉप लॉस का इस्तेमाल करके Trading करना सीखें। स्टॉप लॉस एक पहले से निर्धारित किया गया लक्ष्य है जिसे आप एक बिंदु से अधिक नुकसान को रोकने के लिए ऑर्डर पर रख सकते हैं। स्टॉप लॉस ट्रिगर निवेशकों को भारी नुकसान से बचाते हैं और कुछ ट्रेडों द्वारा उनकी Funds के भारी नुकसान को रोकते हैं। वे Emotional Trading Decisions को दूर करने में भी आपकी मदद कर सकते हैं और बदले में, आपको एक अनुशासित Trader बना सकते हैं।

    निष्कर्ष (Conclusion)

    आज के इस Article शेयर बाजार में निवेश से पहले किन बातों का ध्यान रखें?(Best Tips For Share Market India in Hindi For Invest) के अंदर हम सभी ने आज Best Tips For Beginners Before Investing in Stock Market के बारे में जाना, जिसमें की मैंने आप सब को काफी सारी ऐसी बातें समझाई जिन्हें हम Stock Market में निवेश से पहले अपने ध्यान में रख कर सही निर्णय ले सकते हैं।

    इसे पढ़े: IPO से पैसे कैसे कमाए?
    इसे पढ़े: How To Invest in Stocks For Beginners With Little Money Hindi
    इसे पढ़े: Best Book For Share Market in Hindi
    इसे पढ़े: Share Market Investment Tips in Hindi
    इसे पढ़े: So Sad Shayari DP
    इसे पढ़े: Intraday Trading VS Delivery Trading Which is Better in Hindi?
    इसे पढ़े: What is Intraday Trading in Hindi

    Leave a Reply

    Your email address will not be published.